नगरनार स्टील प्लांट के विनिवेशीकरण के विरुद्ध संयुक्त कर्मचारी संगठनों के आंदोलन का समर्थन देने पहुंचे संसदीय सचिव रेखचंद जैन एवं शहर अध्यक्ष राजीव शर्मा

नगरनार स्टील प्लांट के विनिवेशीकरण के विरुद्ध संयुक्त कर्मचारी संगठनों के आंदोलन का समर्थन देने पहुंचे संसदीय सचिव रेखचंद जैन एवं शहर अध्यक्ष राजीव शर्मा

नगरनार स्टील प्लांट विनिवेशीकरण के खिलाफ एक दिवसीय कामबंद हड़ताल
संयुक्त इस्पात मजदूर संगठन ने खोला मोर्चा
कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने भी दिया समर्थन
जगदलपुर। राष्ट्रीय खनिज विभाग निगम (एनएमडीसी) द्वारा बस्तर के नगरनार में स्टील प्लांट का निर्माण किया जा रहा है किंतु स्टील प्लांट निर्माण के पूर्व ही इसकी विनिवेशीकरण किये जाने की चर्चा जोर पकड़ रही है। नगरनार स्टील प्लांट विनिवेशीकरण के खिलाफ एक दिवसीय धरना -प्रदर्शन 07-09-2020 को संयुक्त मजदूर संगठन के बैनर तले किया गया। मजदूर संगठन के आंदोलन को कांग्रेस पार्टी द्वारा भी समर्थन दिया गया।*
*संसदीय सचिव व विधायक रेखचंद जैन व शहर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष राजीव शर्मा सुबह से ही धरना -प्रदर्शन स्थल पहुंच गए और मजदूर संगठनों के साथ ही उनके स्वर से स्वर मिलाकर जमकर नारेबाजी की । संसदीय सचिव व विधायक रेखचंद जैन ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार, आदिवासी विरोधी मानसिकता का परिचय देते हुए नगरनार स्टील प्लांट विनिवेशीकरण किये जाने का निर्णय लिया है और उनके इस निर्णय के खिलाफ कांग्रेस पार्टी पूरजोर विरोध करेगी। केंद्र सरकार की बस्तर विरोधी मानसिकता भी उजागर हुआ है जिसके खिलाफ बस्तरवासी आंदोलित है। श्री जैन ने मजदूर संगठनों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बस्तरवासियों की इस भावना से अवगत हैं और उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार को पत्र लिखकर अपना विरोध जताया है, केंद्र सरकार के निर्णय के खिलाफ युवावर्ग, आदिवासीयों व बस्तरहित में आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी। शहर अध्यक्ष राजीव शर्मा ने भी कहा कि तत्कालीन छत्तीसगढ़ की रमननीत भाजपा सरकार ने भी विनिवेशीकरण किये जाने का कुत्सित प्रयास किया था जिसका पूरजोर तरीके से विरोध किया जिसके कारण पुलिसिया दमन भी झेलना पड़ा। अभी वर्तमान में भी केंद्र की मोदी सरकार का पूरजोर विरोध किया जायेगा । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बतौर कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने ऐतिहासिक आंदोलन व पदयात्रा की तथा कांग्रेस पार्टी आगे भी बस्तर हित को लेकर चरणबद्ध तरीके से आंदोलन किया जायेगा। इस दौरान ब्लाक अध्यक्ष विरेंद्र साहनी, अनवर खां, योगेश पानीग्राही, हेमु उपाध्याय, अवधेश झा, सुशील मौर्य,संतोष सेठिया, जलंधर बघेल , घनश्याम महापात्र धनुर्जय दास, भगत , लक्ष्मण सेठिया, शोभाराम, मजदूर संगठनों व कर्मचारी संगठनों के प्रमुखों महेंद्र जान, संतराम सेठिया, जितेंद्रनाथ, राजा मैत्थुस व बड़ी संख्या में कर्मचारी व अधिकारीगण उपस्थित थे।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *