जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के सामने निजी स्कूलों की मनमानी, तानाशाही और सांठगांठ का फूंका पुतला पब्लिक वॉइस

 

 

जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के सामने निजी स्कूलों की मनमानी, तानाशाही और सांठगांठ का फूंका पुतला

पब्लिक वॉइस

राहत के तमाम दावों के बावजूद भी नही थम रहा पालकों और स्कूलों के बीच की अस्थिरता

जगदलपुर। निजी स्कूलों और पालकों के बीच की असमंजसता व अस्थिरता खत्म होने का नाम ही नही ले रही है। हाई कोर्ट के आदेश, विधानसभा में विधेयक पास होने के बाद और जिला प्रशासन के सख्त निर्देश से ऐसा लगा था कि पालकों व अभिभावकों को बड़ी राहत मिलेगी पर ऐसा कुछ जमीनी स्तर पर देखने को नही मिल रहा है, जिस वजह से पालक अभिभावक काफी परेशान नजर आ रहे हैं। ट्यूशन फीस के नाम पर कई स्कूल पूरी फीस तो कई स्कूल 10 माह व बढ़ी हुई फ़ीस के लिये नितनये तरीकों से दबाव बना रहे हैं। उक्त आरोप पब्लिक वॉइस के सदस्यों ने लगाया है।

मंगलवार को पब्लिक वॉइस के सदस्यों ने पालकों के साथ मिलकर निजी स्कूलों की मनमानी, तानाशाही और सांठगांठ का पुतला जलाया। उल्लेखनीय है कि निजी स्कूलों की मनमानी को लेकर पब्लिक वॉइस ने मोर्चा खोल रखा है। सदस्यों द्वारा लगतार चर्चा, ज्ञापन, प्रदर्शन कर प्रशासन को जगाने और पालकों के हित मे फैसले के लिये संघर्ष किया जा रहा है। इसी तारतम्य में विरोध स्वरूप पुतला जलाया गया।

पुतला दहन उपरांत पब्लिक वॉइस के सदस्यों ने कहा कि पालकों अभिभावकों के लिये एक-एक दिन कटाना मुश्किल हो गया है। प्रतिदिन स्कूलों से प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से दबाव बनाने की कोशिशें हो रहीं हैं। पालकों और स्कूलों के बीच मनमुटाव की स्थिति उत्पन्न हो रही हैं। हमारी मांग है कि प्रशासन तत्काल इसपर हस्तक्षेप कर सभी स्कूलों को स्पष्ट गाइड लाइन जारी करें ताकि पालकों को राहत मिल सकें। सदस्यों ने आगे कहा कि यदि अब भी यदि प्रशासन नही जगा तो तालाबंदी आंदोलन किया जाएगा जिसकी पूरी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

इस दौरान पालकों के साथ पब्लिक वॉइस के लखपाल सिंह, मितेश पाणिग्राही, हरीश पारेख, दिनेश जैन, गोपाल तीरथानी, भुनेश ध्रुव, रोहन घोष, रोहित बैस, अविलाश भट्ट, तरुण, रोहित सिंह आर्य सहित अन्य उपस्थित थे।

 

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *