एनएचएम के हडताली कर्मचारियों को काम पर लौटने के लिए मिली 24 घंटे का मोहलत

एनएचएम के हडताली कर्मचारियों को काम पर लौटने के लिए मिली 24 घंटे का मोहलत

एनएचएम मे नई भर्ती की प्रकिया जारी करने का निर्देश

जगदलपुर, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के हड़ताली कर्मचारियों को काम पर लौटने के लिए 24 घंटे की मोहलत दी गई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. आरके चतुर्वेदी ने हड़ताली कर्मचारियों से कहा कि इस समय जब राज्य कोविड-19 महामारी से अत्यंत सक्रियता से लड़ रहा है आपका यह कृत्य सर्वथा अनुचित है एवं सौंपे गये दायित्वों के प्रति गंभीर अनुशासनहीनता एवं लापरवाही को दर्शाता है। हड़ताली कर्मचारियों को अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय वापस लेने एवं सौंपे गये दायित्वों का गंभीरतापूर्वक निर्वहन करने के लिए निर्देशित किया गया है।
निर्देशों की अवहेलना किये जाने की स्थिति में आपदा प्रबंधन अधिनियम 2006 की धारा 51 तथा 56 के अधीन एवं छत्तीसगढ़ अत्यावश्यक सेवा संधारण तथा विछिन्नता निवारण अधिनियम 1979 (एस्मा) की कण्डिका 7 (1) के तहत नियमानुसार कार्यवाही की चेतावनी दी जा चुकी है। कर्मचारियों को फिर से 24 घंटे के भीतर कार्य में लौटने की चेतावनी देते हुए कहा गया कि निर्देशों की अवहेलना किये जाने की स्थिति में सेवायें तत्काल प्रभाव से समाप्त करते हुये आपके विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 तथा 56 के अधीन एवं छत्तीसगढ़ अत्यावश्यक सेवा संधारण तथा विछिन्नता निवारण अधिनियम 1979 (एस्मा) की कण्डिका 7 (1) के तहत नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी, जिसके लिये आप कर्मचारी जिम्मेदार होंगे। डाॅ. चतुर्वेदी ने कहा कि कर्मचारियों के हडताल के दौरान कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए जिला प्रशासन के द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था के तहत नई भर्ती की प्रकिया प्रारंभ कर एन एच एम में सभी पदों की भर्ती हेतु विज्ञापन जारी करने का निर्देश दिया गया है।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *