लॉकडाउन का हाल देखने आधी रात को सड़कों पर निकले बस्तर कलेक्टर व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक

लॉकडाउन का हाल देखने आधी रात को सड़कों पर निकले बस्तर कलेक्टर व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक

लोगों को घर पर रहने की दी हिदायत,जवानों का बढ़ाया हौसला

जगदलपुर:- कलेक्टर रजत बंसल, पुलिस कप्तान दीपक झा, सहायक कलेक्टर सूरुची सिंह सहित अन्य अधिकारियो की एक टीम अचानक रविवार देर शाम निरीक्षण में निकल पड़ी। सबसे पहले कलेक्टर सहित अन्य अधिकारी उड़ीसा बॉर्डर के चांदली में पहुंचकर वहां के सुरक्षा इंतजाम का जायजा लिया। कर्मचारियों को सख्त हिदायत दी गई कि आने जाने वाले लोगों को बारीकी से जांच कर ही आगे बढ़ने दिया जाए। बेवजह घर से निकलने वालों पर अनुशासनात्मक कार्यवाही के लिए पुलिस अधिकारी को निर्देश दिए गए। इसके बाद बाईपास रोड होते हुए अधिकारियों का काफिला जगदलपुर पहुंचा। शहर के हर एक चेकप्वाइंट पर कलेक्टर व अन्य अधिकारी ने रुककर पुलिस कर्मचारी व वॉलिंटियर्स से बारीकी से पूछताछ की। वॉलेंटियर्स व पुलिस के जवानों ने अधिकारियों को बताया कि विभिन्न समाजसेवी संगठनों के द्वारा चाय, नाश्ता व भोजन की व्यवस्था प्रतिदिन की जा रही है। इसके साथ ही पुलिस विभाग द्वारा भी समय-समय पर स्वल्पाहार की व्यवस्था की गई है। कलेक्टर ने दो टूक शब्दों में कह दिया है कि बेवजह बाहर निकलने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। दरअसल कोरोना के बढ़ते ग्राफ को देखकर प्रशासन के आला अधिकारी भी चिंतित है। यदि लोग घर से बेवजह निकलेंगे तो कोरोना का ग्राफ गिरना मुश्किल सा है। मालूम हो कि बस्तर कलेक्टर रजत बंसल प्रतिदिन दौरे पर निकल कर हर एक चीज का बारीकी से निरीक्षण करते हैं।उन्हीं के नेतृत्व में शहर के युवा वॉलिंटियर्स की एक टीम गठित की गई है, जो कि शहर के पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों के साथ मिलकर चाक-चौबंद व्यवस्था में मदद कर रहे हैं। शहर के ऐसे 20 युवाओं की टीम गठित की गई है। सभी युवोदय के वॉलिंटियर्स की महत्वपूर्ण बैठक राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला समन्वयक अशोक पांडे ने ली। वहीं प्रतिदिन वॉलिंटियर्स से रूबरू होकर उनकी परेशानियों व समस्याओं से अवगत भी होते हैं। शहर के प्रत्येक चौक चौराहों में युवाओं की जो टीम पुलिस कर्मचारियों के साथ काम कर रही है उनको सुरक्षा की दृष्टि से सैनिटाइजर मास्क व सुरक्षा के सभी इंतजाम मुहैया कराए गए हैं। मालूम हो कि बस्तर जिले में है 15 तारिक शाम 6 बजे से 22 अप्रैल के रात 12 बजे तक लॉक डाउन लगाया गया है। कलेक्टर बंसल ने लोगों से अपील की है कि लॉकडाउन में लोग अपने घरों पर सुरक्षित रहें। जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन का उद्देश्य नहीं है कि वह लोगों को बेवजह परेशान करें।कोरोना का प्रकोप बस्तर जिला में भी बढ़ता जा रहा है इसलिए लॉकडाउन की स्थिति पैदा हुई है। सभी वॉलिंटियर्स सुबह व शाम चार-चार घंटा पुलिस कर्मचारियों के साथ अपनी सेवाएं देंगे। शहर के अनुपमा चौक, गुरु गोविंद सिंह चौक, संजय मार्केट ,धरमपुरा, बस स्टैंड सहित अनेक चौक चौराहों में पुलिस कर्मचारियों की जहां ड्यूटी लगाई गई है यह सभी वॉलिंटियर्स वहां मौजूद रहेंगे। एसपी दीपक झा ने बताया कि बस्तर जिले में संपूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है इसे लेकर जिला प्रशासन ने गाइडलाइन जारी किया है। प्रमुख चौक चौराहों पर पुलिस बल तैनात रहेगा। बेवजह घर से बाहर निकलने वालों पर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया 15 अप्रैल से 22 अप्रैल तक लॉकडाउन के दौरान बस्तर पुलिस ने जगदलपुर शहर को अलग-अलग सेक्टर में बांटकर संवेदनशील चौक चौराहों पर पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में 6 जगहों पर चिन्हांकित कर फिक्स पॉइंट बनाए हैं। इसके अलावा शहर में 4 पेट्रोलिंग पार्टी की व्यवस्था भी की गई है। चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात हैं।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *