लाला जगदलपुरी आधुनिक ग्रंथालय के सफल संचालन हेतु कलेक्टर ने ली बैठक

 

लाला जगदलपुरी आधुनिक ग्रंथालय के सफल संचालन हेतु कलेक्टर ने ली बैठक

बीपीएल परिवार के तथा सभी विकासखण्डों के टाॅपर बच्चों से नहीं ली जाएगी सदस्यता शुल्क

जगदलपुर /कलेक्टर श्री रजत बंसल ने जगदलपुर शहर में नव निर्मित लाला जगदलपुरी आधुनिक ग्रंथालय में सभी सुविधाएं सुनिश्चित करने तथा इस ग्रंथालय के सफल संचालन हेतु आज ग्रंथालय परिसर में अधिकारी-कर्मचारियों की बैठक ली। मूर्धन्य साहित्यकार लाला जगदलपुरी के नाम से स्थापित यह आधुनिक ग्रंथालय बस्तर में शिक्षा के प्रमुख केन्द्र के रूप में स्थापित हो सके एवं जिस उद्देश्य से इसकी स्थापना की गई है। उसमें यह ग्रंथालय सार्थक हो सके इसके लिए उन्होंने इसकी समुचित देखरेख एवं संचालन हेतु अधिकारी-कर्मचारियों को जिम्मेदारी भी सौंपी। बैठक में सभी जरूरतमंद लोगों को इस ग्रंथालय का अधिक से अधिक लाभ सुनिश्चित कराने हेतु बीपीएल परिवार के टाॅपर बच्चों एवं सभी विकासखण्डों के टाॅपर बच्चों को सदस्यता शुल्क नहीं लेने का निर्णय लिया गया। जिससे की गरीब बच्चों के अलावा शासकीय स्कूल के बच्चों को सदस्यता शुल्क में रियायत मिल सके। बैठक में महापौर श्रीमती सफीरा साहू सहित जिला शिक्षा अधिकारी भारती प्रधान, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग एवं जिला कोषालय अधिकारी तथा संबंधित विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।

बैठक में कलेक्टर श्री बंसल ने ग्रंथालय के सफल संचालन हेतु श्री ब्रिजेश डोंगरे को प्रभारी अधिकारी एवं श्री एसआर वली को ई-लर्निंग तथा एचएन खान को पुस्तकालय प्रभारी की जिम्मेदारी सौंपी। उन्होंने सभी अधिकारियों को अपने दायित्वों का निर्वहन निष्ठापूर्वक करने को कहा। उन्होंने कार्य में लापरवाही बरतने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी भी दी। बैठक में कलेक्टर ने ग्रंथालय में जरूरी सुवधिाओं एवं आवश्यक सामाग्रियों की उपलब्धता की भी समीक्षा की एवं इसकी शीघ्र व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। इसके अन्तर्गत उन्होंने ग्रंथालय स्थित स्टूडियो एवं पुराना ई-लर्निंग सेंटर में लाईट की व्यवस्था, ग्रंथालय के लिए अतिरिक्त पानी टैंक, पर्याप्त टेबल कुर्सी की व्यवस्था, लाला जगदलपुरी से जुड़ी हुई सामाग्रियों की रख-रखाव हेतु केबिन का निर्माण, फोटो काॅपी मशीन, काॅर्टरेज तथा सादा प्रिन्टर की खरीदी, सेनेटाईजर मशीन आदि की उपलब्धता की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को इसकी व्यवस्था शीघ्र सुनिश्चित करने को कहा। बैठक में ग्रंथालय के लिए आकस्मिक मद की व्यवस्था के संबंध में भी चर्चा की गई। जिससे की ग्रंथालय की तात्कालिक जरूरतों को पूरा किया जा सके। श्री बंसल ने जिला कोषालय अधिकारी को इस कार्य को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए।
बैठक में कलेक्टर ने आवश्यकता के अनुरूप इस ग्रंथालय में समय-समय पर विभिन्न प्रकार के शैक्षणिक गतिविधियां आयोजित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने विकास सहायक श्री निखलेश हरी को इस कार्य को समय पर संपादित कराने को कहा। श्री बंसल ने ग्रंथालय की पार्किंग व्यवस्था की भी समीक्षा की।इसके लिए उन्होंने सदस्यों के लिए ग्रंथालय परिसर के अंदर एवं अन्य लोगों के लिए परिसर के बाहर पार्किंक व्यवस्था कराने को कहा। कलेक्टर ने ग्रंथालय में पूरे समय साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित कराने को कहा। उन्होंने कहा कि इस कार्य में लापरवाही बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। श्री बंसल ने कहा कि ग्रंथालय में किसी भी स्थिति में मिसबिहेव एवं किसी भी प्रकार की कदाचरण बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने इसकी शिकायत पाये जाने पर ऐसे लोगों की सदस्यता तत्काल समाप्त करने के भी निर्देश दिए। बैठक में अधिकारियों ने ग्रंथालय का आजीवन सदस्यता शुल्क 1100 रूपए निर्धारित करने की जानकारी दी। जिसमें से 500 रूपए काॅसन मनी एवं 200 रूपए मासिक शुल्क निर्धारित की गई है।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *