बस्तर

सहायक खंड शिक्षा अधिकारी को हटाने, सर्व आदिवासी समाज,गोवरमेंट एम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन एवं आदिवासी युवा छात्र संगठन ने दिया ज्ञापन

सहायक खंड शिक्षा अधिकारी को हटाने, सर्व आदिवासी समाज,गोवरमेंट एम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन एवं आदिवासी युवा छात्र संगठन ने दिया ज्ञापन

जगदलपुर – बस्तर प्रभारी सहायक विकास खंड शिक्षा अधिकारी सुशील कुमार तिवारी को अन्यत्र स्थानांतरण करने की मांग को लेकर सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग ,गोवरमेंट एम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन एवं आदिवासी युवा छात्र संगठन ने संभाग आयुक्त बस्तर संभाग एवं कलेक्टर बस्तर के नाम अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) अनुभाग बस्तर को ज्ञापन सौंपा। गोवरमेंट एम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन एवं सर्व आदिवासी ने विकासखंड अन्तर्गत संचालित स्कूलों मे कार्यरत अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग के कर्मचारियों के साथ मानसिक रूप से प्रताड़ित कर भेदभावपूर्ण व्यवहार करते हुए जातिगत दुर्भावना से प्रेरित होकर निचा दिखाने का प्रयास किया जाने का आरोप लगाया है। सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग, गोवरमेंट एम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन जिला बस्तर एवं आदिवासी युवा छात्र संगठन के सैकड़ों लोगों के आज लाल बहादुर शास्त्री मैदान बस्तर मे एकत्रित होकर नाराजगी जाहिर करते हुए सुशील कुमार तिवारी को अन्यत्र स्थानांतरण करने के लिए ज्ञापन सौंपा। इस दौरान गोवरमेंट एम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बताया कि बस्तर सहायक विकासखंड शिक्षा अधिकारी सुशील कुमार तिवारी द्वारा विकास खंड अंतर्गत संचालित स्कूलों मे कार्यरत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग के कर्मचारियों के साथ मानसिक रूप से प्रताड़ित कर भेदभावपूर्ण व्यवहार करते हुए जातिगत दुर्भावना से प्रेरित होकर निचा दिखाने का प्रयास किया जाता है। विभाग द्वारा एवं अन्य शासकीय कार्यो के आयोजनों मे विकास खंड के शिक्षको की ड्युटी लगायी जाती है जिसमें केवल अनुचित जाति के वर्ग के ही कर्मचारियों को आदेशित किया जाता है जो कि श्री सुशील कुमार तिवारी का जातिगत दुर्भावना स्पष्ठ झलकता है। साथ इनके द्वारा पदीप कर्तव्यों का दुरुपयोग करते हुए अनाधिकृत रूप से वित्तीय लाभ प्राप्त कर कई शिक्षको को मनचाहा संस्था मे संलग्नीकरण किया गया है जिसके कारण विकास खंड के शैक्षणिक गतिविधियों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। प्रभारी सहायक खंड शिक्षा अधिकारी के पद पर रहते हुए खंड शिक्षा अधिकारी का Midr का उपयोग कर शिक्षको की Seva पुस्तिका मे हस्ताक्षर किया गया है। जबकि उन्हें सेवा सेवा पुस्तिका मे हस्ताक्षर करने का अधिकार नहीं है। इस दौरान गोवरमेंट एम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन जिला बस्तर, सर्व आदिवासी समाज युवा प्रभाग और आदिवासी युवा छात्र संगठन के पदाधिकारी सहित शिक्षक- शिक्षिका उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.