वजन बढा कुपोषित बच्चों का, यँहा के शिक्षक फुले नही समा रहे हैं शिक्षको की मेहनत ले रही है रंग, खिलखिलाने लगे हैं बच्चे,

वजन बढा कुपोषित बच्चों का, यँहा के शिक्षक फुले नही समा रहे हैं शिक्षको की मेहनत ले रही है रंग, खिलखिलाने लगे हैं बच्चे,

उदाहरण बनने से कुछ कदम दूर

कलेक्टर बस्तर के दुइ पायडिल सुपोषण बर से प्रभावित होकर पंचायत को कुपोषण से मुक्त करने का बीड़ा उठाया

बस्तर जिले के बस्तर ब्लाक के ग्राम पंचायत आड़ावाल के शिक्षक शिक्षिकाओं के द्वारा 16 जनवरी को पंचायत के सभी 4 आंगनवाड़ी केंद्रों में गंभीर रूप से कुपोषित 11 बच्चों को गोद लेकर एक संकल्प लिया कि हम अपने पंचायत को कुपोषण से मुक्त रखेंगे उनकी यह पहल अब दिखने लगी है। शैक्षिक समंनवयक शैलेंद्र तिवारी ने बताया कि। ग्राम पंचायत आड़ावाल के सभी कुपोषित 11 बच्चों को गोद लेकर 16 जनवरी से नियमित रूप से मोहल्ला क्लास में आने के बाद आंगनवाड़ी केंद्रों एवं घरों में जाकर न केवल उन बच्चो को फल स्वयं खिलाते हैं बल्कि दूध,खीर सहित प्रोटीन युक्त सामग्रियों खिलाकर उनके स्वास्थ्य में सुधार करने का जो प्रयास किया वह अब दिखने लगा है।

सभी बच्चो का वजन अब बढ़ने लगा।

मेहनत तब साकार होने लगती है जब किसी उद्देश्य को लेकर काम किया जाए और वह दिखने लगे। ग्राम आड़ावाल में जब 16 जनवरी को इन बच्चो को गोद लिया गया था तब कु निरबति पिता लच्छिन 3 वर्ष का वजन 6 किलो ग्राम था जो बढ़कर 6.180 हो गया।जय प्रकाश पिता महेंद्र 4 वर्ष 9.660 से 9. 810,अजय पिता काशी 3 वर्ष 10.590 से 10.920,कमलेश पिता सोनसाय, उम्र 1 वर्ष 8 माह 7.200 से 7.400,कमलू पिता सोनसाय उम्र 1 वर्ष 8 माह 7.100 से 7.300 ग्राम बजन बढ़ रहा है। जो कि अपने आप मे एक उपलब्धि से कम नही है।
इस कार्य मे श्रीमती राबिया कुरैशी, साइना जिलान, विद्या कौशिक, संजना रायचंदानी, जसो बघेल, प्रियंका मिश्रा, अनुराधा उइके,राजेश्वरी ध्रुव, कमलू कश्यल, पीलूराम कश्यप, विस्नु यादव, पीला सिंह ठाकुर, का योगदान सराहनीय है। महिला बाल विकास विभाग की पर्यवेक्षिका सुधा श्रीवास्तव, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, शोभा निशाद, पार्वती ठाकुर ,दयामनी ठाकुर, गोरेती विश्वकर्मा भी निरन्तर सहयोग कर उत्साह बढा रही है।

क्या कहते हैं जिला के मुखिया

कुपोषण मुक्त पंचायत का के लिए जो कार्य आड़ावाल के शिक्षक शिक्षिकाओं के द्वारा आरम्भ किया गया है यह प्रशंसनीय है। इसका लाभ भी देखने को मिल रहा है। किसी भी कार्य को जब लगन से किया जाए तो सफलता अवश्य मिलती है।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *