भाजपा के पूर्व मंत्री किसानों को भ्रमित करना बंद करें 15 साल सत्ता में थे तब किसानों की चिंता नहीं हुई अब जब कुर्सी छिन गई तब मात्र जनता के हितैषी बनने तथा भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता होने का दायित्व निभा रहे है – चंदन कश्यप विधायक

 

भाजपा के पूर्व मंत्री किसानों को भ्रमित करना बंद करें 15 साल सत्ता में थे तब किसानों की चिंता नहीं हुई अब जब कुर्सी छिन गई तब मात्र जनता के हितैषी बनने तथा भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता होने का दायित्व निभा रहे है – चंदन कश्यप विधायक

पूर्व मंत्री केदार कश्यप ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर छत्तीसगढ़ सरकार को झूठे वादों की सरकार बताया और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के ऊपर समर्थन मूल्य पर धान ना खरीदने और किसानों को धोका देने का आरोप लगाया। इसका पलटवार करते हुए छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष एवं नारायणपुर विधायक चंदन कश्यप ने कहा कि पूर्व मंत्री पहले 15 साल के कुशासन को देख ले। उनके शासनकाल मे किसान, मजदूर, युवा एवं समाज के हर वर्ग त्रस्त था। किन्तु छत्तीसगढ़ मे जैसे ही कांग्रेस की सरकार बनी घोषणा पत्र के अनुसार शपथ ग्रहण के 3 घंटे के पश्चात छत्तीसगढ़ के किसानो का कर्जा माफ़ हुआ, जिसमें उनके बड़े भाई और बीजेपी के बड़े नेताओं के नाम शामिल है।

आज केंद्र सरकार किसानों के ऊपर जिस तरह से अत्याचार कर रही , किसानो के ऊपर लाठियां चला रहे, पानी बरसा रहे है, आंदोलनरत कितने किसान आज शहीद हुए उसे पूरी दुनिया देख रही है और इधर भाजपा के स्थानीय नेता किसान हितैषी होने का ढोंग कर रहे है।तब चिंता नहीं हुयी, हमारी सरकार देश की पहली सरकार है जो किसानो को 25 सौ रू धान का मूल्य दे रही है। उन्होंने कहा कि केदार कश्यप जी को ये जानकारी नहीं है कि पिछले वर्ष हमने राजीव गांधी किसान न्याय योजना लाया और उनको उनकी फसल का उचित दाम दिलाया और अंतिम किस्त जो बचा है उसे माननीय मुख्यमंत्री जी ने मार्च मे डालने की बात कही है और हम मार्च मे अंतिम किस्त भी डालेंगे । आपने भी भाजपा शासन मे बोनस देने की बात कही थी कितने किसानो को बोनस दिए आकड़ा बताइए। भूपेश बघेल जी किसान के बेटे है इसलिए किसानो का दर्द समझते है। और दूसरी और मुद्दा विहीन भारतीय जनता पार्टी के नेता लोगों को झूट बोलकर गुमराह कर रहे है। जनता को गुमराह करना भाजपा की रीति – नीति है। आज छतीसगढ़ की जनता देख रही है कि सच्चाई क्या है।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि इस वर्ष भी भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने धान बेचा और उनके खाते मे पैसा भी डल गए जिनमे पूर्व मुख्यमंत्री जी और उनके परिवार के लोग शामिल है। यही नहीं बस्तर के पूर्व सांसद दिनेश कश्यप जी ने भी 120 क्विंटल और उनकी माता जी के नाम से भी 134 क्विंटल धान बेचा। यदि केदार कश्यप जी आदिवासी और किसानो के साथ है तो तब कहा थे जब नगरनार स्टील प्लांट का निजीकरण हो रहा था, केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ की चावल सेंट्रल पूल मे नही ले रही थी, जितना बारदाना देना था उतना नहीं दिया। आज किसान आंदोलनरत है उनकी चिंता क्यों नहीं हो रही है । छत्तीसगढ़ की जनता को कांग्रेस पार्टी और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के ऊपर भरोसा है। आप जनता को कितना भी गुमराह कर ले हम किया गया वादा भी पूरा करेंगे और आने वाले समय मे भी 25 सौ रुपये क्विंटल मे धान खरीदी करेंगे ।पूर्व मंत्री भाजपा के केवल प्रदेश प्रवक्ता होने का फर्ज निभा रहे है फर्ज निभाना सही है किन्तु जनता को भ्रमित करना गलत।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *