भूमकाल स्मृति दिवस समारोह में राज्यपाल हुई शामिल

 

भूमकाल स्मृति दिवस समारोह में राज्यपाल हुई शामिल

 

जगदलपुर बस्तर प्रवक्ता / राज्यपाल अनुसुईया उइके दो दिवसीय बस्तर प्रवास पर बुधवार को पंहुची , राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके 10 और 11 फरवरी को जगदलपुर प्रवास पर रहेंगी, यहां पहुचकर गोलबाजार स्थित जयस्तंभ और गीदम मार्ग में स्थित गुण्डाधूर उद्यान में श्रद्धासुमन अर्पित किया, इसके पश्चात् इंदिरा प्रियदर्शिनी स्टेडियम में आयोजित भूमकाल स्मृति दिवस समारोह में राज्यपाल शामिल हुई

समारोह में उद्बोधन के दौरान राज्यपाल अनुसुइया उइके जी ने कहा कि आदिवासियों की जमीन सरकार लेने से पहले 5वी अनुसूचित नियम का करे पालन…बिना राज्यपाल के अनुमोदन के बगैर ली गई जमीन पर कोई काम नही होगा…चाहे कोई भी उद्योग हो या फीर कोई निजी काम।

महामहिम राज्यपाल अनुसुईया उइके का उदबोधन..जो संविधान में आदिवासियों को दिए गए अधिकार है वो पूरा मिलना चाहिए..जल जंगल और जमीन को बचाने के लिए जो आदिवासियों ने जंग छेड़ा था गुंडाधुर के इस आंदोलन को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है ।
शहीद गुंडाधुर की प्रेरणा आदिवासियों के लिए बल देने का काम करती है

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *