तीन कृषि काले कानून के विरोध में किसानों ने किया केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ राष्ट्रव्यापी चक्का जाम

तीन कृषि काले कानून के विरोध में किसानों ने किया केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ राष्ट्रव्यापी चक्का जाम

विधायक जैन व वेंजाम ने सम्भाली किसान संगठन के आंदोलन की कमान दिया अपने समर्थकों के साथ पूर्ण समर्थन लगभग 3 घण्टे का रहा जंगी प्रदर्शन
अखिल भारतीय किसान संगठन द्वारा “राष्ट्रस्तरीय चक्का जाम में कांग्रेस के विधायकों ने भरी हुंकार”

कांग्रेस नेताओं ने केंद्र सरकार के नीतियों का किया विरोध जताई आपत्ति कहा मोदी सरकार किसानों का हित नही अहित कर रही

भाजपा की मोदी सरकार के द्वारा थोपे गये काले कानून के खिलाफ कांग्रेस के दिग्गजों ने कहा किसानों के हक की लड़ाई निरन्तर जारी रहेगी

जगदलपुर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी/प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार केंद्र की मोदी सरकार के द्वारा किसान एवं मजदूर विरोधी तीन काले कानून के विरोध में अखिल भारतीय किसान संगठन/यूनियन द्वारा (शनिवार) को दोपहर 12 बजे 3 बजे तक केशलूर चौक के अन्तर्राज्यीय राजमार्ग में चक्का जाम/विरोध प्रदर्शन में बस्तर के जनप्रतिनिधिगण अपने साथियों के साथ उपस्थित होकर अपना पूर्ण समर्थक देकर आंदोलन में अपनी सहभागिता दर्ज की।
जगदलपुर के लोकप्रिय/विधायक संसदीय सचिव रेखचन्द जैन ने हुँकार भरते कहा कि मोदी सरकार के किसान विरोधी बिल का विरोध कर आपत्ति जताई केंद्र की भाजपा सरकार की नियम व नीतियों की आलोचना कर विरोध व्यक्त किया जिसमें उन्होंने केंद्र की भाजपा सरकार तीन किसान विरोधी बिल पास करके हरित क्रांति को विफल करने की साजिश कर रही है जिसके विरोध में केंद्र सरकार के खिलाफ बड़ी संख्या में किसान व खेतिहर मजदूर इन कठोर कानूनों का विरोध कर रहे हैं किंतु केंद्र सरकार किसानों पर लाठियां बरसा कर उनकी आवाजों को कुचलने का प्रयास कर रही है जिसका कांग्रेस सदन से सड़क तक लड़ाई लड़ रही है इसी परिपेक्ष्य में केशलूर चौक में जगदलपुर,दरभा, तोकापाल ब्लॉक के किसान संगठन बड़ी तादाद में उपस्थित थे और उसमें चार चांद कांग्रेसजन अपनी उपस्थिति दर्ज कर लगा दी उपरोक्त बिल का विरोध करते हुए चक्का जाम कर किसान विरोधी बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया उन्होंने बताया की विगत कई दिनों से किसान संगठनों द्वारा आंदोलन किया जा रहा है जिसमें कई किसानों ने अपने प्राणों की आहुति तक दे डाली बावजूद उसके मोदी सरकार ने इस काले कानून पर अभी तक कोई ठोस निर्णय नही लिया इससे पूरे देश के अन्नदाताओं में अराजकता का माहौल है और वह करो या मरो की स्थिति में आ चुके है इस गम्भीर मसले पर इस सरकार को किसान हित मे निर्णायक कदम उठाने की जरूरत है।
विधायक चित्रकूट राजमन वेंजाम ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लाये गए कृषि विधेयक को लेकर मचे घमासान के बीच इसे किसान विरोधी करार देते हुए केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों और किसान संगठनों से कोई चर्चा या सलाह किए बिना यह विधेयक लाया है केंद्र सरकार के इस फैसले का चौतरफा देश में विरोध हो रहा है इस विधेयक से मंडियों की व्यवस्था पूरी तरह चरमरा जाएगी आज मंडियों के वर्तमान प्रणाली से ऊपज बेचकर किसान खुशहाल जिंदगी जी रहा है कृषि क्षेत्र से जुड़े तीनों विधेयक को लाने की जो साजिश की गई उसे भाजपा का गांव,गरीब और किसान विरोधी चेहरा उजागर हुआ है कांग्रेस ने कृषि और किसानों के हित में इस मसले पर मोदी सरकार का जबरदस्त विरोध किया है और आगे भी पूरी पार्टी देश के किसानों के साथ खड़ी रहेगी इस विधेयक के दूरगामी परिणाम किसानों के लिए अहितकर होने वाले हैं यह एक तरह के परंपरागत कृषि क्षेत्र में बड़े उद्योगपतियों के पदार्पण की आहट है बीते 6 साल से भाजपा की मोदी सरकार देश भर के किसानों के साथ चल कर रही है स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश के अनुसार लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने का वादा करो बैटरी मोदी सरकार ने किसानों से किए वादों को पूरा नहीं कर पाई सस्ता डीजल सस्ती रसायनिक खाद और उत्तम क्वालिटी के बीज सहित किसानों की आय दोगुनी करने का वादा अब तक पूरा नहीं हुआ अब मोदी सरकार के द्वारा लाए गए तीन काले कानून किसानों के लिए काला पानी की सजा का फरमान है जिसमें किसान सिर्फ फसल उगाएगा और फायदा पूंजी पतियों को मिलेगा।

इस चक्का जाम में ब्लॉक अध्यक्ष सहदेव नाग,वीर सिंह,जिला महामंत्री अनवर खान,हेमू उपाध्याय,सांसद प्रितिनिधि,महादेव नाग,तुला राम नाग,मुन्ना कश्यप,गणेश कावड़े,मानसिंह ठाकुर, राजेन्द्र त्रिपाठी,सोनारू नाग,गागरुराम,अवधेश झा,ऋषि तिवारी,हरिशंकर सिंह,प्रकाश,जयदेव साह, गुड्डू परिहार,अभिषेक डेविड बलराम,दयालु, कमलू,सुखदेव सेठिया,कमल सक्सेना, गोवर्धन घाटके,के कार्यक्रम में जिला/ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी, सेवादल, महिला कांग्रेस, युवक कांग्रेस,एनएसयूआई सहित अन्य प्रकोष्ठ/विभाग के अध्यक्ष व पदाधिकारीगण,सोशल मीडिया के प्रशिक्षित सदस्यों सदस्यगण/त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के जनप्रतिनिधि/सहकारिता क्षेत्र के पदाधिकारियों वरिष्ठ कांग्रेसजन व कार्यकर्ता सहित किसान साथी इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में उपस्थित थे।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *