खेलकूद बस्तर ब्रेकिंग

बस्तर जिला प्रशासन को मिला देश के सबसे बड़े टूरिज्म फेयर में अवार्ड

बस्तर जिला प्रशासन को मिला देश के सबसे बड़े टूरिज्म फेयर में अवार्ड

‘द मोस्ट प्रॉमिसिंग न्यू डेस्टिनेशन’ का अवार्ड बस्तर के नाम

बस्तर टीटीएफ़ आयोजन का बना थीम डेस्टिनेशन

जगदलपुर / देश के सबसे बड़े टूरिज्म ट्रेड फेयर में बस्तर को ‘द मोस्ट प्रॉमिसिंग न्यू डेस्टिनेशन’ अवार्ड से सम्मानित किया गया। यह अवार्ड बस्तर पर्यटन प्रतिनिधिमंडल ने लिया। जिला प्रशासन की नई पहल आमचो बस्तर पर्यटन समूह से चौदह टूरिस्ट गाइड कोलकाता टीटीएफ मेले में शामिल हुए, जिन्होंने मेले में स्टॉल लगाकर देश-दुनिया के अलग-अलग कोने से पहुंचे पर्यटन प्रेमियों को बस्तर आने का आमंत्रण दिया। साथ ही उन्हें बस्तर की विशेषता से भी परिचित कराया।इस अनूठे कार्यक्रम में यह पहली बार हुआ है जब किसी ज़िला ने ना केवल अपनो उपस्थिति दर्ज कराई अपितु देश कोने कोने से आए ऑपरेटर एवं समूहों को बस्तर पर्यटन के बारे में विस्तार से अवगत कराया

10 से 13 सितंबर तक कोलकत्ता के नेताजी स्टेडियम में आयोजित टीटीएफ मेले में दूसरे राज्यों के टूर ऑपरेटर्स, ट्रेवल एजेंट्स एवं पर्यटकों के बीच विश्वस्तरीय पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित हो रहा बस्तर विशेष रुझान का विषय बना है।

जिला प्रशासन की ओर से देश के सबसे बड़े टूरिज्म ट्रेड फेयर में आमचो बस्तर पर्यटन व स्थानीय कला संस्कृति को प्रदर्शित करने जिले के चौदाह सदस्य कोलकत्ता के लिए रवाना हुए थे, चौदह सदस्यों को जिले के प्रमुख पर्यटन स्थलों से चयनित किया गया था, जिसमें चित्रकोट, तीर्था, बीजाकासा, कोसरटेड़ा, मादरकोंटा, महेन्द्रीघूमर, तामड़ाघूमर, मिचनार, तीरथगढ़, टोपर, माँझीपाल समेत अन्य पर्यटन स्थलों से आमचो बस्तर पर्यटन समिति के प्रतिनिधिमंडल में सम्मिलित हैं। मेले में बस्तर स्टॉल पर यहां के पर्यटन, संस्कृति एवं कलाकृतियों का प्रदर्शित किया गया है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा बस्तर पर्यटन व क्षेत्रीय प्रगति को बढ़ावा देने के लिए जिला प्रशासन द्वारा सभी प्रमुख पर्यटन स्थलों को सर्वसुविधा संपन्न बनाया जा रहा है। बस्तर में पर्यटन रोजगार ट्रेनिंग, पर्यटक ट्रेकिंग, रैपलिंग, पैरामोटर, कैंपिंग, बस्तरिया व्यंजनों की उपलब्धता, टूरिस्ट गाइड सुविधा, एस.टी.एफ कैम्प, कोसारटेंडा बांध, बादल में इको रिसोर्ट समेत पर्यटक स्थलों पर सौंदर्यीकरण का कार्य किया गया। इसके साथ ही बस्तर जिला प्रशासन द्वारा आवाजाही की सुविधा में भी सुलभ विस्तार किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि बस्तर में सबसे अधिक पर्यटक पूर्वी भारत विशेषकर पश्चिम बंगाल से आते हैं। जगदलपुर सहायक कलेक्टर सुरुचि सिंह द्वारा टीटीएफ प्रदर्शनी में देश-दुनिया से कोलकत्ता पहुंचे टूर प्लानर और ट्रेवल एजेंट्स को ‘द मोस्ट प्रॉमिसिंग न्यू डेस्टिनेशन’ पर प्रेजेंटेशन देकर बस्तर आने का न्यौता दिया गया, जिस पर सभी ने अपनी सहमति दी साथ ही अपनी बात रखी जिसमें उन्होंने कहा कि बस्तर में पर्यटन विकास की कवायद जिस तेजी से किया जा रहा है, आने वाले समय में बस्तर विश्व का महत्वपूर्ण पर्यटन हब बनेगा।

टीटीएफ़ में बस्तर पर्यटन आकर्षण का केंद्र बना तथा विभिन समूहों ने इसकी सराहना करते हुए आने वाले समय में बस्तर पर्यटन विकास हेतु काम करने के लियर कार्य करने की बात भी कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *