एटीएम कार्ड बदलकर और उसका पिन नम्बर प्राप्त कर ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के 03 आरोपियों को प्रतापगढ उत्तरप्रदेश से बालोद पुलिस ने किया गिरफ्तार

एटीएम कार्ड बदलकर और उसका पिन नम्बर प्राप्त कर ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के 03 आरोपियों को

प्रतापगढ उत्तरप्रदेश से बालोद पुलिस ने किया गिरफ्तार ।
बुजुर्ग लोंगों को एटीएम मशीन से रकम निकालने में मदद के बहाने बनाता था निशाना ।

आरोपी अपनी पर्सनल कार से उत्तरप्रदेष से बाय-रोड छत्तीसगढ आकर करते है ठगी।
थाना गुण्डरदेही के सिकोसा ग्राम के एसबीआई एटीएम मशीन में प्रार्थी से किया था एटीएम कार्ड को एक्स्चेंज
आरोपियो द्वारा छत्तीसगढ के अलावा अन्य राज्य के लोंगों से भी एटीएम कार्ड को एक्सचंज कर किया गया है ठगी।
सायबर सेल एवं थाना गुण्डरदेही की संयुक्त टीम द्वारा किया गया कार्यवाही।
आरोपियो द्वारा एटीएम कार्ड क्लोनिंग मशीन आनलाईन खरीद कर एटीएम कार्ड क्लोन बनाकर भी करते है ठगी।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, बालोद जितेन्द्र सिंह मीणा के मार्गदर्शन मे तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बालोद डी.आर. पोर्ते के निर्देशन एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी बालोद दिनेश सिन्हा के पर्वेक्षण मे निरीक्षक रोहित मालेकर थाना प्रभारी गुण्डरदेही के हमराह में एक विषेष टीम गठित कर थाना गुण्डरदेही के अपराध क्रमांक-259/2019,धारा-420 भादवि, के आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु टीम जिला प्रतापगढ उत्तरप्रदेश रवाना किया गया था। जिसमें प्रकरण के 03 आरोपितों 1.हिन्दराज पिता राम भरोसे पता- सगरा सुन्दर थाना लालगंज जिला प्रतापगढ (उ.प्र.) 2.इरसाद पिता सफीर उम्र 20 वर्ष पता-चकबंदतोड थाना कोतवाली जिला प्रतापगढ (उ.प्र.) 3. शैलेन्द्र कुमार यादव पिता लाल बहादुर यादव उम्र 22 वर्ष पता- सगरा थाना कोतवाली जिला प्रतापगढ (उ.प्र.) को दिनांक 13.01.2021 को गिरफ्तार कर ट्रांजिट रिमांड पर बालोद लाया गया ।
मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार हैः- प्रार्थी टीकम कुमार यादव पिता कन्हैया राम यादव पता-ग्राम कोटगांव थाना अर्जुन्दा जो कोटगांव हाईस्कूल में कर्मचारी है जो दिनांक 10.07.2019 को सिकोसा एसबीआई एटीएम में पैसा निकालने गया था। एटीएम मषीन सेे पैसा नही निकलने पर प्रार्थी के बगल में खडे एक अज्ञात व्यक्ति ने पैसा निकाल देता हू कहकर प्रार्थी के एटीएम कार्ड और पिन नम्बर प्राप्त कर अपने पास रखे एटीएम कार्ड से प्रार्थी के एटीएम कार्ड को बदलकर वहां से फरार हो गया इसके बाद प्रार्थी द्वारा एटीएम कार्ड देखने पर दूसरे का होने से वह एसबीआई बैंक जाकर जानकारी लेने पर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसकेे खाते से यूको बैंक के एटीएम मशीन से 8000 रूपये निकालकर उसके साथ धोखाधड़ी किया गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना गुण्डरदेही में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के क्रम में टीम द्वारा सायबर सेल से तकनीकी जानकारी एवं बैंक खातों की डिटेल प्राप्त कर प्रतापगढ उत्तरप्रदेश रवाना होकर टीम वहां ग्रामीण वेषभूषा में 10 दिन रह कर अज्ञात आरोपियों के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर प्रकरण के 03 आरोपियो को घटना में प्रयुक्त उसकी स्फ्टि कार के साथ गिरफ्तार किया गया है।
तरीका वारदात- आरोपियो द्वारा छत्तीसगढ के अलावा अन्य राज्यों में जाकर एटीएम मशीन में खडे होकर भेले-भाले लोगो को देख कर टारगेट करते है फिर उसे पैसा निकालने में मदद करने के बहाने उसका एटीएम कार्ड का पिन नम्बर देखकर उसी प्रकार का दिखने वाला एटीएम कार्ड को लोगो को बातो में फंसा कर बदलकर अपना फर्जी एटीएम कार्ड देकर वहां से फरार होकर या दूसरे एटीएम मशीन में जाकर बदले हुए एटीएम कार्ड में कितना रकम है जानकर पैसा कैष निकालकर बाकि रकम दूसरे फर्जी खातों में ट्रांसफर कर निकाल लेते है। इसी प्रकार एटीएम कार्ड क्लोलिंग मशीन आॅनलाईन खरीदी कर भोले-भाले लोगों को इसी प्रकार निषाना बनाकर ठगी का वारदात को अंजाम देते है ये आरोपी, गिरोह में काम करते है सबका अपना अपना काम होता है एक बाहर रेकी करता है एक बातों मे उलझाया रखता है एक व्यक्ति एटीएम कार्ड और पिन देखकर उसे बदलने मे मदद करता है। ये गिरोह के सदस्य कई बार छ.ग. राज्य आकर कई घटना को अंजाम दे चुके है।
उक्त धोखाधड़ी के प्रकरण को सुलझाने व आरोपियो की गिरफ्तारी मे थाना प्रभारी गुण्डरदेही रोहित मालेकर, सउनि हुसैन सिंह ठाकुर , प्रधान आरक्षक राम प्रसाद गजभिये, सायबर सेल से प्रधान आरक्षक रूमलाल चुरेन्द्र , आरक्षक पूरन देवांगन , आरक्षक मिथलेश यादव , आरक्षक विपिन गुप्ता, आरक्षक संदीप यादव का सराहनीय भूमिका रहा।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *