बस्तर संभाग के समस्त जिला की अपराध, कानून-व्यवस्था, नक्सल विरोधी अभियानों की समीक्षा बैठक

बस्तर संभाग के समस्त जिला की अपराध, कानून-व्यवस्था, नक्सल विरोधी अभियानों की समीक्षा बैठक

अपराध प्रकरणों के Pattern का विश्लेषण कर घटनाओं की रोकथाम हेतु कार्य योजना बनायी जायेगी।

बस्तर संभाग में अंदरूनी एवं सीमावर्ती क्षेत्र में माओवादियों के विरूद्ध होगी प्रभावी अभियान।

पुलिस अधिकारी/जवानों के कल्याणकारी गतिविधियों की ओर विशेष ध्यान होगा।

बस्तर संभाग के प्रत्येक पुलिस थाना/चौकी/कैम्प समग्रित विकास केन्द्र के रूप में विकसित होंगे।

जगदलपुर पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज श्री सुन्दरराज पी. द्वारा संभाग के समस्त जिलों के अपराध, वर्तमान में कानून-व्यवस्था एवं पुलिस अधिकारी/ जवानों की कल्याणकारी गतिविधियों आदि विषय पर समीक्षा बैठक ली गई।

पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज द्वारा हत्या, हत्या का प्रयास, महिलाओं के विरूद्ध अपराध, सम्पत्ति संबंधी अपराध, सड़क दुर्घटनाओं एवं अन्य गंभीर प्रकरणों की जिलेवार समीक्षा की जाकर उक्त प्रकरणों में विवेचना कार्यवाही जल्द से जल्द पूर्ण कर न्यायोचित अग्रिम कार्यवाही किये जाने हेतु पुलिस पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित करते हुए गंभीर अपराधों के Pattern का विश्लेषण कर इन प्रकरणों के पुनरावृत्ति न हो इसके लिए विशेष कार्य योजना बनाने हेतु कहा गया।

अपराधों की रोकथाम के दृष्टि से प्रतिबंधात्मक कार्यवाही को सख्ती से पालन कराये जाने एवं नशीले पदार्थ, जुआ-सट्टा एवं अन्य गैर कानूनी तथा असामाजिक गतिविधियों पर नियंत्रण रखे जाने के संबंध में पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया गया।

रेंज के पुलिस अधीक्षकों को पुलिस विभाग के समस्त अधिकारी/कर्मचारियों के व्यक्तिगत समस्याओं का निराकरण करने एवं उनके कल्याणकारी गतिविधियों को प्रभावी रूप से क्रियान्वयन करने हेतु पुलिस मुख्यालय के निर्देशानुसार ‘‘स्पंदन’’ कार्यक्रम को समस्त पुलिस थाना/चौकी/कैम्प में करने हेतु कहा गया । उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारी/कर्मचारियों को पुरस्कृत करने के साथ-साथ अनुशासनहीनता बरतने वाले अधिकारी/कर्मचारियों के विरूद्ध सख्ती से कार्यवाही करने हेतु भी पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज द्वारा निर्देशित किया गया।

नक्सलियों के विरूद्ध अभियान के तहत अंदरूनी एवं सीमावर्ती क्षेत्र में प्रभावी कार्यवाही के लिए कार्य योजना बनाने के साथ-साथ माओवादियों के शहरी नेटवर्क एवं सप्लाई चेन के विरूद्ध कार्यवाही के संबंध में निर्देशित किया गया। पुलिस महानिरीक्षक द्वारा बस्तर रेंज में तैनात अर्द्धसैनिक बलों से बेहतरीन तालमेल स्थापित करते हुए नक्सल प्रभावित क्षेत्र में शासन की ‘विश्वास-विकास-सुरक्षा’ त्रिवेणी कार्य योजना को प्रभावी रूप से क्रियान्वित करने के संबंध में निर्देशित किया गया। साथ ही नक्सल प्रभावित क्षेत्र में प्रत्येक पुलिस थाना/चौकी/कैम्प को Integrated Devlopment Centre के रूप में विकसित करने के संबंध में निर्देशित किया गया।

पुलिस को-ऑर्डिनेशन सेन्टर, जगदलपुर में आयोजित की गई बैठक में डॅा. संजीव शुक्ला, उप पुलिस महानिरीक्षक, कांकेर रेंज, दीपक झा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, बस्तर, डॅा. अभिषेक पल्लवा, पुलिस अधीक्षक, दन्तेवाड़ा,  मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर, सिद्धार्थ तिवारी, पुलिस अधीक्षक, कोण्डागांव  के.एल. ध्रुव, पुलिस अधीक्षक, सुकमा,  कमलोचन कश्यप, पुलिस अधीक्षक, बीजापुर एवं एम.आर. अहिरे, पुलिस अधीक्षक, कांकेर उपस्थित रहे।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *