बस्तर

पीडीएस राशन विक्रेता कल्याण संघ ने जिला प्रशासन के एडिशनल कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

पीडीएस राशन विक्रेता कल्याण संघ ने जिला प्रशासन के एडिशनल कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

जगदलपुर। पीडीएस राशन विक्रेता कल्याण संघ के संयुक्त नेतृत्व में जिला प्रशासन के एडिशनल कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा चर्चा के दौरान बताया कि,केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा राशन दुकानों में राशन वितरण प्रणाली के तहत ई पोस मशीन राशन संचालकों को दिया गया है। एवं सरकारी राशन वितरण नियमावली के तहत राशन दुकान में रजिस्ट्रेट उपभोक्ता को इस मशीन में अंगूठा लगाकर ही राशन वितरण किए जाने का निर्देश जिला खाद्य कार्यालय के द्वारा दिया गया है।

परंतु विडंबना है ।कि केंद्र व राज्य सरकार द्वारा जारी ई पोस मशीन मैं लगातार सरवर खराब होने की शिकायत जिला खाद्य अधिकारी को दिए जाने के बावजूद भी आज पर्यंत तक इस संवेदनशील समस्या का समाधान नहीं हो पाया है। परिस्थितियां इस तरह निर्मित हो गई है ।कि मशीन में सर्वर ना होने पर गरीब उपभोक्ता को राशन वितरण से वंचित होना पड़ रहा है।

इस परिस्थिति के चलते जिले शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में उपभोक्ताओं के द्वारा अपना रोष व्यक्त करते हुए लगातार राशन संचालकों को निशान बना दुर्व्यवहार किया जा रहा है ।जिससे कभी भी कोई अप्रिय स्थिति जिले में निर्मित हो सकती है। इस आशंका को लेकर आज जिला कलेक्टर के नाम एडिशनल कलेक्टर श्री इक्का जी को ज्ञापन सौंप, संवेदनशील विषय पर तत्काल उच्च विभागीय अधिकारियों से चर्चा कर समाधान निकालने की अपील की गई।

संपूर्ण घटनाक्रम में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के जिला अध्यक्ष नवनीत चांद ने कहा कि ,केंद्र व राज्य सरकार की खाद्य वितरण प्रणाली जमीनी स्तर पर उचित तरीके से कार्य करने में असफल साबित हो रही है। जहां एक तरफ राज्य व केंद्र सरकार के जनप्रतिनिधि वह सरकारी अमला लगातार सरकारी जनसभा के आयोजनों में खाद्य प्रणाली के नाम पर अपनी पीठ थपथपा वाह वाह लूटने का कार्य कर रही है। तो वहीं दूसरी तरफ जमीनी स्तर पर योजनाओं की जांच करने पर सच्चाई बिल्कुल विपरीत नजर आ रही है ।यही कारण है कि आज पीडीएस राशन वितरण कल्याण संघ द्वारा जिला प्रशासन एवं राज्य सरकार के समक्ष ई पोस मशीन वापस करने हेतु आंदोलन करने में मजबूर होना पड़ रहा है।

राशन संचालक संघ द्वारा लगातार विभागीय अधिकारियों को समस्या से अवगत कराने के पश्चात भी आज पर्यंत तक संवेदनशील समस्याओं का समाधान ना निकालना इस बात का परिचायक है। कि राज्य सरकार व केंद्र सरकार इस योजना को जमीनी अमलीजामा पहनाने वाले विभागीय अधिकारी गंभीर अवस्था में नहीं दिखाई दे रहे हैं।

उन्हें यह बात याद रखनी चाहिए कि आगामी दिनों में होली का पर्व है ।ऐसे में यदि इस मशीन की सरवर समस्या ऐसे ही बनी रहे, तो गरीब उपभोक्ताओं को राशन वितरण कैसे किया जाएगा ,और यदि राशन दुकान द्वारा सही समय पर राशन वितरण नहीं किया गया तो जो दुर्व्यवहार राशन संचालकों को उपभोक्ताओं से बिना गलती के झेलना पड़ रहा है।

वह कहीं बड़े घटना में तब्दील न हो जाए,इन बातों पर गंभीरतापूर्वक विचार करते हुए राज्य सरकार स्थानीय जनप्रतिनिधि व जिला प्रशासन से अपील है कि तत्काल समस्या के समाधान हेतु उच्च विभागीय अधिकारियों राज्य के मंत्रियों से संपर्क साथ जनता हित में समाधान निकालने का कष्ट करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.