बस्तर ब्रेकिंग राजनीति

विधानसभा सरकारी उपक्रम सम्बधी समिति एवं विधानसभा सचिवालय के अधिकारियों द्वारा नगरनार इस्पात संयंत्र का किया गया औचक निरीक्षण

विधानसभा सरकारी उपक्रम सम्बधी समिति एवं विधानसभा सचिवालय के अधिकारियों द्वारा नगरनार इस्पात संयंत्र का किया गया औचक निरीक्षण

केंद्र सरकार चलाने में सक्षम नहीं तो राज्य सरकार के प्रस्तावनुसार इस संयंत्र को राज्य को सौंपे- विधायक चित्रकोट राजमन बेंजाम

जगदलपुर निजीकरण के मुद्दे पर विधायक चित्रकोट राजमन बेंजाम ने कहा कि भारत सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले अंतर्गत एनएमडीसी नगरनार स्टील प्लांट का निजीकरण किया जा रहा है। 20 हजार करोड़ रूपये से अधिक खर्च करके तकरीबन 15 वर्षों से निर्माणाधीन प्लांट से स्थानीय निवासियों को रोजगार के अवसर और विकास का रास्ता प्रशस्त होने वाला था कि केन्द्र सरकार इसका विनिवेश कर निजी हाथों को सौपने जा रही है। जबकि प्लांट हेतु 610 हेक्टेयर जमीन किसानों से अधिग्रहित है।

छत्तीसगढ़ सरकार विधानसभा में 28 दिसंबर 2020 को इस प्लांट के संचालन हेतु प्रस्ताव पास कर केन्द्र सरकार को भेजा है। राज्य सरकार चाहती हैं कि सरकारी संपत्ति निजी हाथों में न जाए जिससे स्थानीय लोगों का चहुंमुखी विकास का रास्ता प्रशस्त हो। नगरनार स्टील प्लांट के औचक निरीक्षण के बाद समिति बस्तर विकास प्राधिकरण अध्यक्ष माननीय लखेश्वर बघेल जी के गृह निवास पहुँचे जहां ग्रामीणों के द्वारा भव्य स्वागत किया गया और सरकारी उपक्रम के समिति ने गिरोला स्थित माता हिंगलाजिन का दर्शन कर प्रदेश की कुशलक्षेम की प्रार्थना की इस दौरान उपक्रम समिति के सभापति सत्यनारायण शर्मा जी,धनेन्द्र साहू जी,मोहन मरकाम जी, लखेश्वर बघेल जी,मिथलेश स्वर्णकार जी,राजमन बेंजाम जी,रेखचन्द जैन जी,श्रीमती देवती कर्मा जी,बलराम मौर्य जी एवं विधानसभा सचिवालय के अधिकारी कर्मचारीगण उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *