बस्तर

गिरोला मंदिर में हुई चोरी के मामले को सुलझाने वाले अधिकारी-कर्मचारियों का किया गया सम्मान

 

गिरोला मंदिर में हुई चोरी के मामले को सुलझाने वाले अधिकारी-कर्मचारियों का किया गया सम्मान

जगदलपुर,  गिरोला स्थित मां हिंगलाजीन मंदिर में हुए चोरी के मामले को सुलझाने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को आज सम्मानित किया गया। गिरोला मंदिर परिसर में आयोजित समारोह में हुए चोरी के मामले को सुलझाने पर बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं प्रमुख पुजारी श्री लखेश्वर बघेल ने पुलिस एवं प्रशासन के सक्रियता की भुरी- भुरी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि इस मंदिर में अब तक सात बार चोरी की घटनाएं घट चुकी हैं, लेकिन इस बार पुलिस ने अत्यंत सक्रियता के साथ कार्य किया और न केवल सभी चोरों को पकड़ा, बल्कि पूरे आभूषण भी प्राप्त करने में सफलता प्राप्त की। उन्होंने कहा कि चोरी के इस मामले में पुलिस की तत्परतापूर्वक की गई कार्यवाही से अत्यंत हर्ष है। उन्होंने कहा कि इस बार हुई चोरी में चोरों का चेहरा उजागर हुआ है, जिसके लिए पुलिस निश्चित तौर पर खुशी की बात है। इस अवसर पर कमिश्नर श्री श्याम धावड़े, कलेक्टर श्री रजत बंसल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र मीणा सहित अधिकारी-कर्मचारियों का मंदिर ट्रस्ट द्वारा किया गया। सम्मान

इस अवसर पर कलेक्टर श्री रजत बंसल ने कहा कि उन्हें पूर्व में भी इस मंदिर में आने का अवसर प्राप्त हुआ है और हर बार यहां आने पर असीम ऊर्जा की अनुभूति हुई है। उन्होंने चोरी के इस मामले को सुलझाने के लिए पुलिस को बधाई दी और कहा कि इससे पुलिस और प्रशासन पर लोगों का भरोसा निश्चित तौर पर बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि अपराध रहित समाज के निर्माण में लोगों का निरंतर सहयोग मिलता रहेगा।

इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र मीणा ने इस मामले के सुलझाने के लिए किए गए प्रयासों के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले को सुलझाने में सीसीटीवी से काफी मदद मिली। उन्होंने कहा कि माता के आशीर्वाद एवं लोगों के सहयोग से एक माह के भीतर ही इस मामले में सभी अपराधियों को गिरफ्तार करने के साथ ही पूरे आभूषण और रकम को भी जब्त
किया गया, जो कि साधारण तौर पर संभव नहीं होता है, क्योंकि चोरी के बाद इसे खर्च कर दिया जाता है। उन्होंने इस मामले को सुलझाने के लिए ओड़ीसा राज्य के नवरंगपुर और कोरापुट पुलिस द्वारा किए गए सहयोग को भी अत्यंत महत्वपूर्ण बताया। वहीं इस मामले में अपराधियों को पहचानने के साथ ही उन तक पहुंचने के लिए सायबर सेल की कुशलता के साथ ही पुलिस अधिकारियों द्वारा किए गए अथक प्रयासों के संबंध में जानकारी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.