छात्रों का भविष्य अंधकार में, राज्य सरकार को नही है कोई परवाह, नवीन ठाकुर

छात्रों का भविष्य अंधकार में, राज्य सरकार को नही है कोई परवाह, नवीन ठाकुर,

जगदलपुर संपूर्ण प्रदेश में स्नातक के विभिन्न संकायों के छात्रगण अपने प्राप्तांकों के इंतज़ार में पल पल चिंतित हैं , और इस संबंध में विश्वविद्यालय के द्वारा कोई जानकारी सोशल मीडिया पे उपलब्ध नही करवाई जा रही है । स्नातक स्तर के प्रथम वर्ष , द्वितीय वर्ष के सभी छात्र दुविधा में हैं , की उनके इस वर्ष के शिक्षा सत्र का क्या होगा ,तथा अंतिम वर्ष के सभी संकायों के छात्र के परिणाम इस वर्ष के क्या होंगे , और वे अपने अगले सत्र में किस प्रकार प्रवेश पा सकेंगे ।क्योंकि स्नातक अंतिम वर्ष के सभी संकायों के छात्र के परीक्षा परिणाम अबतक घोषित नही हुए हैं।और उन्हें यह भी नही पता , के इस वर्ष उनका परीक्षा परिणाम घोषित होगा भी या नही तथा उनका अगला वर्ष का प्रवेश कब और कैसे होगा ,क्योंकि पुनः नए शिक्षण सत्र के परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए महज़ कुछ ही माह बचे हुए हैं । ऐसे में छत्तीसगढ़ की सरकार इस संबंध में कोई भी चिंतन मनन नही कर रही है तथा इस सम्बंध में दिशा निर्देश भी जारी नही कर रही है , जिससे प्रदेश भर के सभी कॉलेजों में पढ़ने वाले विभिन्न छात्रों का भविष्य अंधकारमय हो गया है । जिसकी परवाह प्रदेश की सरकार को बिल्कुल नहीं है । जिससे सभी कॉलेजों के छात्र आक्रोशित हो रहे हैं , तथा उनमें नकारात्मक ऊर्जा का संचार हो रहा है , तथा प्रदेश के युवा वर्ग के छात्रों के लिए विकल्प हीन होती जा रही है। प्रदेश के मुखिया एवं उनके मंत्रि गहरी निद्रा में सोए हुए हैं , तथा सभी छात्र जो अंतिम वर्ष में हैं , और उनका परिणाम उनके जीवन का आधार बनेगा , वह पूर्णतः अंधकारमय उन्हें प्रतीत हो रहा है । ऐसे में प्रदेश की सरकार अकर्मण्य है । तथा आगामी वर्ष शैक्षणिक सत्र के संबंध में प्रदेश की सरकार बिल्कुल भी संवेदनशील नहीं है , जिसका परिणाम इस वर्ष तथा आगामी वर्ष में छात्रों के भविष्य पर ग्रहण की तरह पड़ेगा , जिसकी सम्पूर्ण जवाबदेही प्रदेश के मुखिया , मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल एवं उनके सम्पूर्ण मंत्रिमंडल की है।

Baski Thakur

बस्तर प्रवक्ता समाचार पत्र के प्रधान संपादक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *